कविता

 Image result for कोयल

शिक्षा

बहुत जरूरी होती शिक्षा,

सारे अवगुण धोती शिक्षा I

चाहे जितना पढ़ लें हम पर,

कभी न होती पूरी शिक्षा II

शिक्षा पा कर ही बनते हैं,

नेता, अफसर और शिक्षक I

वैज्ञानिक, मन्त्री, व्यापारी,

और सीमा के रक्षक I

कर्तव्यों का बोध करती,

अधिकारों का ज्ञान I

शिक्षा से ही मिल सकता है,

सचमुच का सम्मान I

बुद्धिमान को बुद्धि देती,

और ज्ञानी को ज्ञान I

शिक्षा से ही बन सकता है,

भारत देश महान I

कविता संकलित करने वाली,

शगुन शर्मा को मेरा सलाम I

रचती रहना प्यारी बेटी,

रचना सुबहो – शाम I

 

संकलनकर्त्री : शगुन शर्मा

 

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s